डीजे के साथ निकाली गई बंदर की श’व यात्रा, रो पड़ा पूरा गांव..हर तरफ शोक की लहर

डीजे के साथ निकाली गई बंदर की शव यात्रा

जानवरों के साथ लोगों का प्यार तो काफी देखा होगा। लेकिन क्या आपने कभी ऐसा सुना है या देखा कि, एक बंदर की मौ’त पर एक दो नहीं बल्कि पूरे गांव में शोक की लहर हो और हर किसी की आंखों में आंसू हो. शायद नहीं, लेकिन एक ऐसा ही मामला मध्यप्रदेश के रायगढ़ जिले से सामने आया है. यहां पर एक बंदर की मौ’त (Villagers do Last Riots of Monkey with Hindu rituals) पर पूरे गांव में शोक की लहर नजर आई और हर किसी ने दुख जताया।

यही नहीं बंदर की श’व यात्रा में गांव के कई लोग शामिल हुए और पूरे रीती रिवाज और डीजे के साथ बंदर को अंतिम विदाई दी गई. रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला राजगढ़ के राजपुरा का है. यहां एक बंदर का आकस्मिक नि’धन हो गया, यह बंदर गांव में सबके यहां घूमता रहता था, जिससे लोगों का जुड़ाव बंदर के साथ हो गया था. उसके निध’न पर गांव के लोगों ने उसे परिवार के एक सदस्य की तरह ही विदाई दी है.

बंदर की हिंदू रीति रिवाज के माध्यम से श’व यात्रा (Villagers do Last Riots of Monkey with Hindu rituals) निकाली गई. अंतिम यात्रा में डीजे के साथ रामधुन बजाई गई, जिसमें ‘रघुपति राघव राजा राम सबको सन्मति दे भगवान’ जैसे गीतों के साथ यात्रा निकाली गई. इस यात्रा में गांव के लगभग सभी जन शामिल हुए.

वीडियो देखने के लिए लिंक पर क्लिक करें: https://twitter.com/news24tvchannel/status/1339106161480454144

इतना ही नहीं इस यात्रा में पुरुष वर्ग के साथ ही बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुईं जो यात्रा के पीछे चल रही थीं. गांव के कुछ लोग डीजे पर थिरकते हुए चल रहे थे. राजपुरा गांव में एक बड़ा मंदिर भी है जिसमें सभी गांव के लोग एक साथ पूजन करते हैं.

इस मंदिर में कई तरह के धार्मिक आयोजन होते रहते हैं. लोग बताते हैं कि यह गांव बड़ा ही धार्मिक प्रवृत्ति का है. यही कारण है कि बंदर की मौ’त को कहीं न कहीं धार्मिक विधाओं से जोड़ते हुए उसकी अंतिम यात्रा में गांव के सभी लोग शामिल हुए.

Related Posts

Leave a Comment