शिवसेना की भाजपा को खुली चुनौती! कहा- BMC पर कब्जा जमा कर दिखाएं..

Shiv sena open challenge to BJP

शिवसेना और भाजपा के बीच जारी जुबानी जं’ग थमने का नाम नहीं ले रही है. एक के बाद एक कई मुद्दों पर दोनों पार्टी के बीच वार पलटवार का दौर जारी है. इस कड़ी में अब शिवसेना (Shiv sena Open challenge to BJP) ने कहा कि भाजपा का भगवा ध्वज से कोई संबंध नहीं है। दरअसल पार्टी के मुखपत्र सामना में एक संपादकीय में कहा गया है कि शिवसेना का भगवा ध्वज तीन दशकों से बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) में फहर रहा है और भाजपा ने इसे हटाने की हिम्मत करके दिखाए।

सहयोगी से प्रतिद्वंद्वी बने भाजपा और शिवसेना – देश में सबसे अमीर नागरिक निकाय, BMC पर नियंत्रण के लिए ल’ड़ा’ई लड़ रहे हैं, जिसके लिए 2022 में चुनाव होने हैं। बुधवार को देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि भाजपा 2022 फरवरी के बाद बीएमसी पर कब्जा कर लेगी। भाजपा नेता आशीष शेलार ने टिप्पणी की कि पिछले नवंबर में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ हिंदुत्व छोड़ने के बाद शिवसेना के भगवा ध्वज को शुद्धिकरण की आवश्यकता है।

वहीं इधर इस मामले को लेकर शिव सेना (Shiv sena open challenge to BJP Over BMC election) के संपादकीय में शुक्रवार को कहा गया कि- भाजपा नेताओं ने यह नहीं कहा कि उन्होंने अपनी हालिया जीत के बाद बिहार में भगवा झंडा फहराया। वे शिवसेना के साथ जुड़ने के बाद भगवा ध्वज से जुड़ गए। यह मुंबई नागरिक निकाय पर तब से चल रहा है जब भाजपा शिवसेना के साथ नहीं थी। यह भगवा ध्वज शुद्ध, उज्ज्वल और प्रभावी है, ”

अब देखना होगा कि, आखिर इस बयान पर भाजपा की तरफ से क्या प्रतिक्रया सामने आती है. जाहिर है बीएमसी के चुनावों को लेकर अभी भी सियासी हलचल बढ़ चुकी है और दोनों पार्टियां अपना कब्जा जमाने के लिए ताकत लगा रही हैं.

Related Posts

Leave a Comment