कोलकाता में गरजे टिकैत, कहा- यह सरकार लु’टेरों की सरकार है, व्यापारियों के हाथ में बंधी हुई है

कोलकाता में गरजे राकेश टिकैत

कृषि कानून के खिलाफ किसानों के आंदोलन को 100 दिन से अधिक हो गया है. अभी भी किसानों ने हार नहीं मानी है और उनका कहना है कि, वह तब तक वापस नहीं जाएंगे जब तक कानून वापस नहीं हो जाते हैं. टिकैत (Rakesh tikait in Kolkata) अभी कोलकाता में हैं और उन्होंने वहां एक सभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार पर जमकर हम’ला बोला और जनता से भाजपा को वोट न करने की अपील की.

बंगाल किसान पंचायत टिकैत द्वारा आयोजित सभा में टिकैत ने आवाज बुलंद की. उन्होंने कहा- यह लोग अब बंगाल में आकर किसानों को खुशहाली देने की बात कह रहे हैं. जरा इनसे पूछना कि, दिल्ली में बैठे किसनों से क्यों नहीं बात कर रहे. टिकैत कहते हैं कि, लोगों के मन में सवाल होगा कि, आखिर हम यहां क्यों आये.

तो बात यह है कि, जब हम दिल्ली में इतने समय से बैठे हैं सरकार हमारी सुन नहीं रही और अब बंगाल में आ गई है. इसलिए हमभी बंगाल चले आये इनसे यहीं बात करने।

टिकैत का पूरा बयान सुनने के लिए लिंक पर क्लिक करें: https://www.facebook.com/257589007755725/videos/472814190434789

यही नहीं टिकैत ने किसानों से अपील करते हुए कहा- आप लोग जागरूक हो जाएं यह सरकार लु’टेरों की सरकार है. बड़ी कंपनियों के हाथों बंधी है और नए कृषि कानून से किसानों का हाल बे’हाल होगा। इसलिए देश को बचाना है तो आप सभी को मिलकर इस सरकार को हटाना होगा। टिकैत ने कहा- आप लोग भाजपा को वोट न देना बाकि मर्जी जिसको भी दे दो. हमारा यह आंदोलन चलता रहेगा जब तक सरकार कानून वापस नहीं ले लेती है. बता दें कि, अभी टिकैत नंदीग्राम में भी सभा करने वाले हैं. कुछ देर बाद वह वहां भी पहुंचेंगे।

जाहिर है बीते दिनों सयुंक्त किसान मोर्चा की तरफ से यह एलान किया गया था कि, किसान नेता अब बंगाल और अन्य राज्यों में भी जाएंगे। जहां चुनाव होने वाले हैं उन राज्यों में जाकर महापंचायत कर किसानों को जागरूक करेंगे। वहीं टिकैत के बंगाल पहुंचते ही उनके स्वागत में काफी लोग उमड़ आये और किसान संगठनों के झड़े लिए नारेबाजी करते नजर आ रहे हैं.

Related Posts

Leave a Comment