ड्र’ग्स मामले के बीच महाराष्ट्र में खुली बीड़ी और सिगरेट बेचने पर लगी रोक, जानें क्या है वजह..

मायानगरी मुंबई में इन दिनों काफी हल’चल देखने को मिल रही है. सुशांत मामले में ड्र’ग्स एं’गल सामने आने के बाद से फिल्म इंडस्ट्री में खल’ब’ली मची हुई है. तो इसी बीच महाराष्ट्र सरकार की तरफ से एक बड़ा आदेश जारी किया गया है. दरअसल महाराष्ट्र (Maharashtra Government Ban Selling of Open cigarette) में अब खुली सिगरेट-बीड़ी की बिक्री पर बै’न लगा दिया है.

इस फैसले के साथ ही महाराष्ट्र देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है जहां अब से खुले में सिगरेट नहीं बिकेगी। गुरुवार को महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग की तरफ से यह अधिसूचना जारी की गई है. जिसमें कहा गया कि सिगरेट और तंबा’कू अधिनियम 2003 के मुताबिक सिग’रेट-बी’ड़ी समेत सभी तं’बा’कू उ’त्पा’दों के पैकेट पर स्वास्थ्य चे’ता’वनी लिखना अनिवार्य है।

खुले में नहीं बिकेगी सिगरेट और बीड़ी

सरकार की तरफ से जारी आदेश (Maharashtra Government Ban Sale of Open cigarette) में इसके पीछे की वजह भी बताई गई है. सरकार की तरफ से बताया गया कि, जब लोग खुले में एक- सि’ग’रेट या बी’ड़ी लेते हैं तो वे उस पर लिखी चेता’वनी नहीं देख पाते। इसलिए सरकार ने खुले में बीड़ी- सिगरेट की बिक्री पर रोक लगाने का फैसला किया।

तो वहीं इस मामले पर लोगों की प्रतिक्रिया भी आने लगी है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मुद्दे पर बात करते हुए टाटा मेमोरियल अस्पताल के कैं’स’र सर्जन डॉक्टर पंकज चतुर्वेदी ने कहा- सरकार के इस अधिसूचना के बाद युवाओं में धू’म्र’पा’न की आदत में कमी आएगी. क्योंकि एक बार में पूरी पैकेट खरीदने में उन्हें ज्यादा पैसे लगेंगे।


उन्होंने कहा कि भारत में 16 से 17 साल के युवाओं में स्मो’किं’ग की आदत सबसे ज्यादा है. उनके पास बहुत ज्यादा पैसे नहीं होते, इसलिए वह पैकेट की वजाय खुली सिग’रेट खरीदते हैं। उन्होंने कहा कि खुली सिगरेट खरीदने वालों को कभी भी तं’बा’कू उ’त्पा’दों पर लगाए जाने वाले ज्यादा टै’क्स की तक’लीफ महसूस नहीं होती।

Related Posts

Leave a Comment