बंगाल चुनाव से पहले BJP को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने थामा ममता दीदी की पार्टी का साथ

यशवंत सिन्हा भाजपा में हुए शामिल

बंगाल में चुनाव की तारीखों का एलान होने के बाद से सियासी पारा अधिक बढ़ गया है. अभी तक जहां कई बड़े नेता और स्टार्स भाजपा में ही शामिल हो रहे थे. तो इधर अब भाजपा के बड़े नेता रहे यसवंत सिन्हा (Yashwant Sinha Join TMC) ने अब ममता दीदी की पार्टी का दामन थाम लिया है. जी हां आज बंगाल से काफी दिलचस्प खबर सामने आई जब एक वरिष्ठ भाजपा नेता यशवंत ने टीएमसी का दामन थाम लिया।

इस खबर के सामने आने के बाद सियासी बयानबाजी और तेज हो गई है. दरअसल यशवंत सिन्हा ने कोलकाता में स्थिति टीएमसी के दफ्तर में पार्टी ज्वाइन की। पश्चिम बंगाल चुनाव से ठीक पहले यशवंत सिन्हा ने यह फैसला लिया है और इसके साथ ही भाजपा के खेमे में भी हल’चल बढ़ गई है. अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री रहे यशवंत सिन्हा 2014 के बाद से ही मोदी सरकार के आलोचकों में से एक रहे हैं।

टीएमसी ज्वाइन करते ही भाजपा पर किया पलटवार

ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी में शामिल होने के बाद यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha Join TMC) ने दीदी की जमकर तारीफ़ की. साथ ही कई बड़े बयान दिए. उन्होंने कहा कि देश आज अभूतपूर्व स्थिति का सामना कर रहा है। लोकतंत्र की मजबूती लोकतंत्र के संस्थानों में होती है। न्यायपालिका समेत ये सभी संस्थान अब कमजोर हो गए हैं। उन्होंने आगे कहा कि अटलजी के समय में बीजेपी आम सहमति में भरोसा करती थी, लेकिन आज की सरकार कुच’लने और जीतने में भरोसा करती है। अकाली, बीजेडी ने भाजपा साथ छोड़ दिया, आज बीजेपी के साथ कौन है?

ऐसे में इस बात की संभावना है कि वह टीएमसी से जुड़ने के बाद पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार करेंगे। कई बार वह आर्थिक मामलों को लेकर मोदी सरकार की आलोचना कर चुके हैं। 2014 से 2019 के दौरान उनके बेटे जयंत सिन्हा वित्त राज्यमंत्री थे, लेकिन उस दौरान भी उन्होंने कई बार पार्टी नेतृत्व की आलोचना की थी।

यशवंत सिन्हा के बारे में जानें

आपको बता दें कि, यशवंत सिन्हा मुख्य रूप से पटना के रहने वाले हैं। वहीं, इनकी पढ़ाई लिखाई भी हुईं। 1958 में राजनीति शास्त्र में मास्टर की डिग्री हासिल की। इसके बाद 1960 में भारतीय प्रशासनिक सेवा में शामिल हुए अपने कार्यकाल के दौरान कई महत्त्वपूर्ण पदों पर रहते हुए 24 साल से अधिक तक सेवा दिए।

Related Posts

Leave a Comment