फिल्मों में आने से पहले चौकीदारी करते थे नवाज, फैजल खान के किरदार ने बनाया स्टार..

आप सभी लोगों ने एक कहावत तो जरूर सुनी होगी कि उगते हुए सूरज को हर कोई सलाम करता है। बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है। आज नवाज़ुद्दीन सिद्दिकी (Nawazuddin Siddiqui) बॉलीवुड के सबसे बेहतरीन अभिनेताओं में गिने जाते हैं।

यह अभिनेता गैं’ग ऑफ वासेपुर जैसी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय का लो’हा मनवा चुका है। नवाज ने यह साबित कर दिया है कि टैलेंट किसी भी चीज का मोहताज नहीं होता। नवाज़ुद्दीन सिद्दिकी 19 मई को अपना 46 जन्मदिन मना रहे हैं। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के छोटे से गांव बुढाना 19 मई साल 1974 में नवाजुद्दीन सिद्दिकी का जन्म हुआ था. हालांकि आज बॉलीवुड कि जिस ऊंचाई पर यह अभिनेता बैठे हैं। वहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने काफी सं’घर्ष किया है. तो चलिए आज हम आप को उनके जन्मदिन के मौके पर उनकी सं’घर्ष की स्टोरी के बारे में बताते हैं।

अभिनय के लिए जुनून
नवाजुद्दीन जब नौकरी कर रहे थे। तभी उन्होंने सोच लिया था कि वह 1 दिन अभिनेता जरूर बनेंगे। अपने गांव से निकलकर नवाजुद्दीन दिल्ली पहुंच गए। वहां पर उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में दाखिला लिया। नवाजुद्दीन अपने दोस्तों के साथ कई सारे स्टेज शो किया। हालांकि उनकी मंजिल तो बॉलीवुड थी जिसके लिए उन्होंने कमर कस ली थी।

फिल्मों में आने से पहले की वॉचमैन की नौकरी
इस अभिनेता के लिए मुंबई में आकर स्ट्रगल करना आसान नहीं था। पैसों की भारी तं’गी के चलते उन्हें वॉचमैन की नौकरी भी करनी पड़ी। कमाने के साथ-साथ नवाजुद्दीन बॉलीवुड में अपने करियर की तलाश करने में लगे हुए थे। नवाजुद्दीन ने अपने एक इंटरव्यू में इस बात का खुलासा किया है कि फिल्मों में आने से पहले वह बतौर वॉचमैन की नौकरी करते थे. जिसका उन्हें आज भी किसी भी तरीके का मलाल नहीं है।

जब बड़ी फिल्मों में मिले छोटे किरदार
नवाज़ुद्दीन सिद्दिकी ने आमिर खान की फिल्म सरफरोश से साल 1999 में बॉलीवुड की दुनिया में कदम रखा था। इस फिल्म में नवाजुद्दीन आ’तंकवा’दी की भूमिका निभाई थी फिल्म जबरदस्त हिट रही थी। आमिर खान ने जमकर तारीफ भी बटोरी थी। लेकिन आ’तंकवादी के किरदार में नवाजुद्दीन (Nawazuddin Siddiqui Debut Movie) को कोई खास पहचान नहीं मिल पाई। उसके बाद फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस में नवाजुद्दीन ने चो’र का किरदार निभाया था। देव डी में भी वह शादी में गीत गाते हुए दिखाई दिए। इरफ़ान खान की फिल्म पान सिंह तोमर में वह दिखाई दिए। करीब 12 साल तक नवाज़ुद्दीन सिद्धकी ने बॉलीवुड में की तरह के छोटे-छोटे किरदार निभाए।

जब गैं’ग्स ऑफ वासेपुर से चमकी किस्मत
साल 2012 में आई फिल्म गैं’ग्स ऑफ वासेपुर में नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने फैसल खान का किरदार निभाया था। तब नवाजुद्दीन (nawazuddin Success story) ने अपने अभिनय से इस किरदार में ऐसी जान डाली कि हर कोई उनका दीवाना हो गया। नवाजुद्दीन के करियर की यह सुपरहिट फिल्म साबित हुई. इसके बाद अभिनेता ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

बॉलीवुड की फिल्मों में कर चुके हैं काम
बॉलीवुड का ये अभिनेता ‘त’लाश’, ‘द लंच बॉक्स’, ‘कि’क’, ‘ब’दलापुर’, ‘बजरंगी भाईजान’, ‘रईस’, ‘मुन्ना माईकल’, ‘मं’टो’, ‘ठा’करे’, ‘हाउसफुल 4’, ‘मो’तीचूर च’कनाचू’र’, जैसी शानदार फिल्मों में काम किया. ‘घू’मकेतू’ नवाजुद्दीन सिद्दिकी की अगली रिलीज फिल्म है जो कि डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज होने जा रही है. इसके अलावा वो ‘बोले चू’ड़ियां’ में भी नजर आएंगे. नवाजुद्दीन सिद्दिकी ‘से’क्रेड गेम्स’ और ‘मैक मा’फिया’ जैसी बेबसीरीज में भी काम कर चुके है।

Related Posts

Leave a Comment