खाना खिलाया, डॉक्टरों को होटल दिया..अब मजदूरों को घर भी भेज रहे सोनू, अभिनेता हो तो ऐसा..

फिल्मों में विलेन बनने वाले कलाकार सोनू सूद असल जिंदगी में सबसे बड़े हीरो हैं. लॉक डाउन के बाद से बॉलीवुड स्टार्स (Bollywood stars Help Migrants) लगातार लोगों की मदद कर रहे हैं. लेकिन सोनू सूद (Sonu sood) इस मामले में सलमान के बाद संबसे आगे नजर आये. एक तरफ जहां वह रोजाना 25 हजार मजदूरों को खाना खिला रहे हैं. तो वहीं डॉक्टरों के लिए उन्होंने अपना होटल दे दिया। यही नहीं अब उन्होंने मुंबई में फंसे मजदूरों को उनके घर भेजने की जिम्मेदारी भी ले ली है. हाल ही में सोनू ने अपने पैसों से कई बसें बुक करके कई सौ मजदूरों को उनके घर के लिए रवाना किया है.

यही नहीं उनका कहना है कि, जब तक वह सभी को घर नहीं भेज देते हैं तब तक नहीं रुकेंगे। ऐसे में इस परेशानी के समय में सोनू मजदूरों के लिए सबसे बड़े मसीहा (Real Hero Sonu sood) बनकर सामने आये हैं.

रोजाना 25 हजार मजदूरों को खाना खिला रहे सोनू

जी हां लॉक डाउन के बाद सोनू सूद ने प्रवासियों के भोजन की व्यवस्था करने का जिम्मा लिया था. सलमान खान के बाद सोनू दूसरे अभिनेता रहे जिन्होंने इतने मजदूरों की मदद करने के लिए पहल की. रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोनू रोजाना मुंबई में 25 हजार मजदूरों को खाना खिला रहे हैं. इस खबर के सामने आने के बाद हर कोई उनकी प्रशंसा करता नजर आया था. जाहिर है इस समय हर कोई जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आ रहा है. ऐसे में सोनू इन मजदूरों के लिए मसीहा बनकर आगे आये.

अपने पैसों से बसें बुक कर मजदूरों को घर भेजने के ली जिम्मेदारी

सरकार जहां लगातार प्रावसि मजदूरों तक मदद पहुंचाने के लिए मदद कर रही है. लेकिन इसके बाद भी रोजाना हजारों मजदूरों का पलायन जारी है. ऐसे में अब सोनू सूद ने मुंबई में फंसे मजदूरों को उनके घर भेजने के लिए पहल की और अपने पैसों से कई बसें बुक कर दी. इन बसों से सभी मजदूरों को उनके गृह जनपद भेजा जा रहा है. हाल ही में एक वीडियो सामने आया था जिसमे सोनू कह रहे थे कि, वह सभी को जब तक घर नहीं भेज देते हैं वह रुकेंगे नहीं। वह कहते हैं कि, इनके चेहरे पर ख़ुशी देखकर मेरा दिन बना गया.

डॉक्टरों के लिए खोल दिया था अपना होटल

सोनू सूद भले ही फिल्मों में विलेन का किरदार निभाते हैं. लेकिन इस कोरोना लॉक डाउन में उन्होंने साबित कर दिया कि, उनसे बड़ा हीरो और कोई नहीं है. लॉक डाउन के बाद जहाँ सब कुछ बंद हो गया था, ऐसे में कोरोना वारियर्स के लिए परेशानी खड़ी हो गई थी. वह दिन रात अस्पताल में लोगों की सेवा में लगे थे. ऐसे में सोनू ने इन लोगों के लिए जुहू स्थित अपने होटल को इनके ठहरने के लिए खुला दिया था. इस नेक कदम के लिए भी लोगों ने सोनू की जमकर प्रशंसा की थी.

Leave a Comment