20 घंटे से अधिक काम कर रहे हैं सोनू सूद, हर एक प्रवासी को घर भेजने के लिया है प्रण..

मदजूरों के लिए फरिश्ता बनकर आये सोनू सूद उनके चेहरों पर ख़ुशी ला रहे हैं. बेबसी और परेशानी से जूझ रहे मजदूरों को सोनू (Sonu sood) ने सहारा दिया और आज कई हजार मजदूर ख़ुशी ख़ुशी अपने घर पहुंच चुके हैं. वह दिन रात इनकी सेवा में लगे हुए हैं और हर प्रवासी को घर भेजने के प्रण लिया है. ऐसे में वह रोजाना 20 घंटे (Sonu sood working 20 hours a day)से अधिक समय तक जागकर लोगों की मदद कर रहे हैं.

सिर्फ 3 घंटे सोते हैं सोनू, बाकी पूरा दिन मजदूरों के लिए

इन दिनों सोनू सूद मजदूरों की मदद के लिए दिन रात डटे हुए हैं. वह लगातार मुंबई में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर भेजने के काम कर रहे हैं. जमीन पर तो मदद कर ही रहे हैं, इसके साथ ही वह लोगों से सोशल मीडिया के जरिये भी जुड़े हुए हैं. ट्विटर, व्हाट्सएप मेल हर तरफ से लोग उनके पास मैसेज भेज रहे हैं और मदद की गुहार लगा रहे हैं. वहीं हाल ही में सोनू ने जी न्यूज संग बातचीत में बताया था कि, उनके पास दिन भर फोन आते हैं और वह लगागतार 20 घंटों (Sonu sood working 20 hours per day) तक सभी का जवाब देने और उनसे बात करने में व्यस्त रहते हैं. वह कहते हैं कि, हर तरफ से लोग उनके पास फोन कर मदद की गुहार लगाते हैं. ऐसे में मैं सबका जवाब देने की पूरी कोशिश करता हूं और उनको घर भेजने का इंतजाम भी.

सोनू ने कहा जब तक हर एक प्रवासी को उसके घर नहीं पहुंचा देता रुकूंगा नहीं

अभिनेता सोनू सूद इन दिनों मजदूरों के मसीहा बने हुए हैं. न सरकार से न अधिकारी से हर कोई सिर्फ उनसे ही मदद की गुहार रहा है. सोशल मीडिया पर लगातार लोग उनसे मदद मांग रहे हैं और अपना नाम नंबर देकर घर पहुंचाने के लिए मदद मांग रहे हैं. ऐसे में सोनू हर तरफ एक्टिव हैं और हर जरूरतमंद की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं. वह सभी का जवाब देकर उसे घर भेजे जाने का आश्वासन दे रहे हैं. हाल ही में उन्होंने जी न्यूज संग एक खास बातचीत में बताया कि, वह अब तक 12 हजार मजदूरों को उनके घर पहुंचा चुके हैं. वहीं यह पूछे जाने पर कि, आप कब तक इस तरह से मदद करेंगे और क्या लक्ष्य है आपका कि कितने लोगों को घर पहुंचाएंगे।

इस सवाल का जवाब देते हुए सोनू ने कहा कि, वह जब तक सड़क पर ही रहेंगे जब तक आखिरी प्रवासी को उसके घर नहीं पहुंचा देते। वह कहते हैं कि, यह लोग देश की शान हैं और इनको मुसीबत में हम कैसे देख सकते हैं. ऐसे में मैं हर प्रवासी को उसके घर तक पहुंचाने का काम करूंगा।

रोजाना 45 हजार जरूरतमंद लोगों को खाना भी खिला रहे हैं सोनू

सोनू पिछले काफी समय से मुंबई में अलग-अलग जगह पर जरूरतमंद लोगों तक खाना पहुंचाने का काम भी कर रहे हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, वह कुछ हजार नहीं बल्कि रोजाना 45 हजार जरूरतमंद और गरीब लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था कर रहे हैं. रील लाइफ में विलेन बनने वाले सोनू ने इस लॉक डाउन में इंसानियत की एक ऐसी मिसाल पेश की है जिसको लोग कभी नहीं भुला पाएंगे।

रियल लाइफ हीरो बनकर सोनू ने हर किसी का दिल जीत लिया है. मजदूरों ने उनको अपना भगवान मान लिया है, जाहिर है सं’कट के समय में जो व्यक्ति मदद के लिए आगे आये वह किसी फ़रिश्ते से कम नहीं है. वहीं सोनू एक तरफ लोगों को खाना पहुंचा रहे हैं तो दूसरी तरफ वह मजदूरों को घर भेजने का काम भी लगातार कर रहे हैं.

Leave a Comment