कोविड ग्रस्त परिवारों के घर तक भोजन पहुंचा रही गुरुद्वारा कमेटी, मानवता की सेवा के लिए बढ़ाया हाथ

कोविड ग्रस्त परिवारों के घर तक भोजन पहुंचा रही गुरुद्वारा कमेटी

इस वक्त देश परेशानी से जूझ रहा है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कुछ जगह पर लॉक डाउन लगाया जा रहा है, जिसकी वजह से एक बार फिर मजदूर पलायन करते नजर आ रहे हैं. तो वहीं कई घरों में सदस्य कोविड से ग्र’स्त हैं जिसकी वजह से भोजन की समस्या हो रही है. लेकिन दिल्ली में रह रहे ऐसे परिवारों की मदद का जिम्मा बंगला साहेब गुरुद्वारा कमेटी (Bangla saheb Gurudwara Langer seva) ने उठाया है. कमेटी की तरफ से लंगर सेवा फिर से शुरू की गई है और वह लोगों के घरों तक खाना पहुंचाने का काम कर रहे हैं.

जी हां एक तरफ जहां गुरुद्वारे की लंगर सेवा के जरिये मजदूरों और यात्रियों को लंगर उपलब्ध कराया जा रहा है। तो दूसरी तरफ वॉलेंटियर्स ऐसे लोगों के घर जा जाकर भी खाना पहुंचा रहे हैं जिनके घर में लोग खाना नहीं बना पा रहे. गौरतलब है कि, पिछले वर्ष लाकडाउन लगने पर कई माह तक गुरुद्वारा बंगला साहिब व अन्य गुरुद्वारों से लाखों लोगों को भोजन कराया गया था।

घर लौट रहे कामकागारों के लिए लंगर आन व्हील्स सुविधा भी शुरू की गई थी। अब एक बार फिर से संकट के दौर में गुरुद्वारा बंगला साहिब से लोगों को मदद मिल रही है।

इस लंगर सेवा को लेकर कमेटी के पदाधिकारियों का कहना है कि डीएसजीएमसी की चिंता है कि दिल्ली में कोई भी व्यक्ति भूखा न सोए। इसके लिए हर जरूरी कदम उठाए जाएंगे। गुरुद्वारा बंगला साहिब में कुछ माह पहले ही अत्याधुनिक लंगर हाल तैयार किया गया है। इस लंगर हाल में स्वचालित मशीनें लगी हुई हैं। मशीनों से लंगर तैयार किया जाता है।

दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिरसा ने सोशल मीडिया पर कुछ फोटोज शेयर कर इसकी जानकारी दी है. कोरोना मरीजों के साथ ही अन्य जरूरतमंदों को भी लंगर उपलब्ध कराया जा रहा है। फिलहाल लगभग 20 हजार लोगों तक लंगर पहुंच रहा है। जरूरत पड़ने पर दो लाख से ज्यादा ज्यादा लोगों को लंगर देने की व्यवस्था की गई है।

Related Posts

Leave a Comment