अखिलेश यादव ने किया बड़ा एलान, लव जिहा’द कानून का विधानसभा में विरोध करेगी पार्टी..

अखिलेश बोले- पार्टी करेगी लव जिहाद कानून का विरोध

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने अपने कहे अनुसार हाल ही में लव जि’हाद अध्यादेश को मंजूरी दे दी. जिसके बाद हर तरफ इसको लेकर चर्चा हो रही है. एक तरफ हरियाणा और मध्य प्रदेश सरकार सीएम योगी के इस फैसले की सराहना कर रही है. तो दूसरी तरफ अब अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav React on New Bill) ने बड़ा एलान कर दिया है. अखिलेश यादव ने कहा- धर्मांतरण कानून विधेयक विधानसभा में आयेगा तो सपा (Samajwadi Party) पूरी तरह विरोध करेगी.

उल्लेखनीय है कि राज्‍यपाल की मंजूरी के बाद कथि’त ‘लव जि’हाद’ रोकने के लिए ‘उत्तर प्रदेश विधि विरूद्ध धर्म संपविर्तन प्रतिषेध अध्‍यादेश, 2020’ की अधिसूचना शनिवार को ही जारी की गई है. अब यह अध्यादेश दोनों सदन में पास होते ही कानून का रूप ले लेगा।

अखिलेश बोले- पार्टी करेगी लव जिहा’द कानून का विरो’ध

अखिलेश यादव ने शनिवार को सपा मुख्‍यालय में पूर्व सांसद चौधरी बिजेंद्र सिंह, पूर्व दर्जा प्राप्त मंत्री लियाकत अली, पूर्व विधायक जमीरउल्‍ला, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) समेत कई दलों को छोड़कर पार्टी में शामिल होने वाले नेताओं का स्‍वागत करने के बाद पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान कथि’त ‘लव जिहा’द’ पर सरकार द्वारा बनाये जा रहे कानून के सवाल पर यादव ने कहा कि सपा ऐसे किसी कानून के पक्ष में नहीं है.

उन्‍होंने (Akhilesh Yadav react on Love Jih’ad Law) कहा कि हमारी पार्टी इसका पूरी तरह विरो’ध करेगी.सरकार एक तरफ अंतरजातीय और अन्‍तर्धामिक विवाह को प्रोत्‍साहन दे रही और दूसरी तरफ इस तरह का कानून बना रही है, तो यह दोहरा बर्ताव क्‍यों है? इसके अलावा उन्‍होंने किसान और कोरोना के मुद्दे पर भी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.

एमपी और हरियाणा में भी कानून लाये जाने की तैयारी

आपको बता दें कि, हरियाणा सरकार के मंत्री अनिल विज ने योगी सरकार का आभार जताते हुए कहा था कि, अब जल्द हरियाणा में भी इसपर कानून लाया जाएगा। वहीं एमपी में मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी यह कह चुके हैं कि, सरकार जब’रन धर्मांतरण को रोकने के लिए जल्द कानून लाएगी। तो वहीं दूसरी तरफ इस कानून को लेकर विप’क्षी दल भाजपा पर राजनीति करने का आरोप लगा रहे हैं. ऐसे में अब अखिलेश यादव ने सामने आकर यह एलान कर दिया कि, उनकी पार्टी विधानसभा में इस कानून का सख्त विरो’ध करेगी।

Related Posts

Leave a Comment